Romantic Love Sms in Hindi For Girlfriend

किस्मत से अपनी सबको शिकायत क्यों है?
जो नहीं मिल सकता उसी से मुहब्बत क्यों है?
कितने खायें है धोखे इन राहों में
फिर भी दिल को उसी का इंतजार क्यों है?

********************

 किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नहीं
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नहीं
गुनाह हो यह ज़माने की नज़र में तो क्या
ज़माने वाले कोई खुदा तो नहीं

 ********************

 इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए
कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था
आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए

 ********************

 आँखों में तेरी डूब जाने को दिल चाहता है
इश्क में तेरे बर्बाद होने को दिल चाहता है
कोई संभाले मुझे बहक रहे है मेरे कदम
वफ़ा में तेरी मर जाने को दिल चाहता है



 कोई कहता है प्यार नशा बन जाता है
कोई कहता है प्यार सज़ा बन जाता है
पर प्यार करो अगर सच्चे दिल से
तो वो प्यार ही जीने की वजह बन जाता है

******************** 

 वो वक़्त वो लम्हे कुछ अजीब होंगे
दुनिया में हम खुश नसीब होंगे
दूर से जब इतना याद करते है आपको
क्या होगा जब आप हमारे करीब होंगे?

 ********************

 उनके दीदार के लिए दिल तड़पता है
उनके इंतज़ार में दिल तरसता है
क्या कहें इस कमबख्त दिल को अब
अपना होकर भी जो किसी और के लिए धड़कता है।
 ********************


 धोखा ना देना कि तुझपे ऐतबार बहुत है
ये दिल तेरी चाहत का तलबगार बहुत है
तेरी सूरत ना दिखे तो दिखाई कुछ नही देता
हम क्या करें कि तुझसे हमें प्यार बहुत है।

 ********************

कच्ची दीवार हूँ ठोकर ना लगाना मुझे
अपनी नज़रों में बसा कर ना गिराना मुझे
तुम को आँखों में तसावुर की तरह रखता हूँ
दिल में धड़कन की तरह तुम भी बसाना मुझे।

 ********************

 तन्हाइयों में मुस्कुराना इश्क़ है
एक बात को सब से छुपाना इश्क़ है
यूँ तो नींद नहीं आती हमें रात भर
मगर सोते-सोते जागना और
जागते-जागते सोना ही इश्क़ है।

 ********************

 खुशबू की तरह मेरी हर साँस में
प्यार अपना बसाने का वादा करो
रंग जितने तुम्हारी मोहब्बत के हैं
मेरे दिल में सजाने का वादा करो।

 ********************

 हम वो फूल हैं जो रोज़ रोज़ नहीं खिलते
यह वो होंठ हैं जो कभी नहीं सिलते
हम से बिछड़ोगे तो एहसास होगा तुम्हें
हम वो दोस्त हैं जो रोज़ रोज़ नहीं मिलते।

 ********************

 रात होगी तो चाँद दुहाई देगा
ख्वाबों में आपको वह चेहरा दिखाई देगा
ये मोहब्बत है ज़रा सोचकर करना
एक आंसू भी गिरा तो सुनाई देगा

 ********************

 हम रूठे तो किसके भरोसे
कौन आएगा हमें मनाने के लिए
हो सकता है
तरस आ भी जाए आपको
पर दिल कहाँ से लाये
आप से रूठ जाने के लिए

 ********************

 कोई छुपाता है कोई बताता है
कोई रुलाता है तो कोई हंसाता है
प्यार तो हर किसी को ही
किसी न किसी से हो जाता है
फर्क तो इतना है कि कोई अजमाता है
और कोई निभाता है

 ********************

 ना आना लेकर उसे मेरे जनाजे में
मेरी मोहब्बत की तौहीन होगी
मैं चार लोगो के कंधे पर हूंगा
और मेरी जान पैदल होगी

 ********************

खफा न होना हमसे
अगर तेरा नाम जुबां पर आ जाये
इंकार हुआ तो सह लेंगे और अगर दुनिया हंसी
तो कह देंगे
कि मोहब्बत कोई चीज़ नहीं
जो खैरात में मिल जाये
चमचमाता कोई जुगनू नहीं
जो हर रात में मिल जाये

 ********************

 मेरी मोहब्बत है वो कोई मज़बूरी तो नही
वो मुझे चाहे या मिल जाये जरूरी तो नही
ये कुछ कम है कि बसा है मेरी साँसों में वो
सामने हो मेरी आँखों के जरूरी तो नही

 ********************

 किसी पत्थर में मूर्त है कोई पत्थर की मूर्त है
लो हम ने देख ली दुनिया जो इतनी खूबसूरत है
ज़माना अपनी न समझे कभी पर मुझे खबर है
कि तुझे मेरी ज़रूरत है और मुझे तेरी ज़रूरत है।

 ********************

 लाख बंदिशें लगा दे यह दुनिया हम पर
मगर दिल पर काबू हम कर नहीं पायेंगे
वो लम्हा आखिरी होगा हमारी ज़िन्दगी का
जिस पल हम तुझे इस दिल से भूल जायेंगे।

 ********************

 ऐसा जगाया आपने कि अब तक ना सो सके
यूँ रुलाया आपने कि महफ़िल में हम ना रो सके
ना जाने क्या बात है आप में सनम
माना है जबसे तुम्हें अपना किसी के ना हम हो सके।

 ********************

 माना कि किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही
पर ये सच है कि मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही
उसके दिल में उसकी यादो में कोई और है लेकिन
मेरी हर साँस में उसके सिवा कोई और नही।

 ********************

 कोई अच्छा लगे तो उनसे प्यार मत करना
उनके लिए अपनी नींदे बेकार मत करना
दो दिन तो आएँगे खुशी से मिलने
तीसरे दिन कहेंगे इंतज़ार मत करना

 ********************

 ये वफ़ा तो उस वक्त की बात है ऐ फ़राज़
जब मकान कच्चे और लोग सच्चे हुआ करते थे

 ********************

 अपनी आयु से अधिक
अपनी छवि का ध्यान रखें,क्योंकि
छवि की आयु आपकी
आयु से अधिक है ।।

 ********************

 इश्क के रिश्ते भी बड़े
नाजुक होते है साहब,
रात को नम्बर बिजी आने
पर भी टूट जाते है.!!

 ********************

 प्यार के दो मीठे बोल से खरीद लो मुझे।
दौलत की सोचोगे तो पूरी दुनिया बेचनी पड़ेगी...

******************** 

 उसने पूछा कोई आखिरी ख्वाहिश....
जुबान पर आ गया सिर्फ तुम...!!!

 ********************

 हमको खबर भी होने नही दी ।
किस मोड़ पर लाकर दिल तुने तोड़ा ।
अपना बनाना रहा दूर तुने ।
औरो के हो जाए ,ऐसा ना छोड़ा ।

 ********************

ये जो खामोश से अल्फाज़ लिखेे हैं ना,
पढना कभी ध्यान से चीखते कमाल हैं।

 ********************

 कोई और गुनाह करवा दे मुझ से मेरे खुदा,
मोहब्बत करना अब मेरे बस की बात नहीं ।

 ********************

 हम तो इन्तेजार करते करते
अब मर जायेंगे...
कोइ तो आये एेसा जिन्दगी में
जो बेवफा ना हो 




 ********************


 दिल की उम्मीदों का हौसला तो देखो...
इन्तजार उसका..
जिसको एहसास तक नहीं 

 ********************

 कुछ बातों के मतलब हैं
और कुछ मतलब की बातें, . . .
जब से फर्क समझा,
जिंदगी आसान हो गई!!

 ********************

 दुरिया खलती है मुझे....
इतने करीब रिश्तों में...!!
कि आ भी जाओ मेरे पास. ..
यु ना मोहब्बत दो मुझे किश्तो मे..!!

 ********************

 बस यही आदत उसकी मुझे
अच्छी लगाती है जब .युही
नज़रें झुका कर वो कहती है
तुम्हे कोई हक नही .

 ********************

 ताबीर जो मिल जाती तो एक ख्वाब बहुत था
जो शख्स गँवा बैठे है नायाब बहुत था
मै कैसे बचा लेता भला कश्ती-ए-दिल को
दरिया-ए-मुहब्बत मे सैलाब बहुत था….

 ********************

 तेरी तो फितरत थी
सबसे मुहब्बत करने की,
हम तो बेवजह खुद को
खुशनसीब समझने लगे

 ********************

 ना लफ़्ज़ों का लहू निकलता है
ना किताबें बोल पाती हैं,
मेरे दर्द के दो ही गवाह थे
और दोनों ही बेजुबां निकले…

 ********************

 मायूस ना हो, लबों को भी तकलीफ ना दे...
गर है प्यार तुझे, तो आँखों से बयां कर दे...

 ********************

 मैं उस के खयालो से बच के कहाँ जाऊं .
वो मेरी सोच के हर रस्ते पे नजर आता है

 ********************

 ना शौक दीदार का,
ना फिक्र जुदाई की,
बड़े खुश नसीब हैँ वो लोग जो,
मोहब्बत नहीँ करतेँ!

 ********************

 अगर तुम अजनबी थे तो लगे क्यों नहीं
और अगर मेरे थे तो मुझे मिले क्यों नहीं 

 ********************

 अजीब था उनका अलविदा कहना,
सुना कुछ नहीं और कहा भी कुछ नहीं,
बर्बाद हुवे उनकी मोहब्बत में,
की लुटा कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीँ!

 ********************

 खामोश बैठें तो लोग कहते हैं
उदासी अच्छी नहीं,
ज़रा सा हँस लें तो
मुस्कुराने की वजह पूछ लेते हैं !

 ********************

 जो लोग एक तरफा प्यार करते है
अपनी ज़िन्दगी को खुद बर्बाद करते है !
नहीं मिलता बिना नसीब के कुछ भी,
फिर भी लोग खुद पर अत्याचार करते है 

 ********************

 ख़ामोशी बहुत कुछ कहती हे
कान लगाकर नहीं ,
दिल लगाकर सुनो 

 ********************

 तुम नही होते हो,बहुत खलता है
इश्क कितना है तुमसे पता चलता ।।

 ********************

 हम तुमसे दूर कैसे रह पाते,
दिल से तुमको कैसे भूल पाते,
काश तुम आईने में बसे होते,
ख़ुद को देखते तो तुम नज़र आते.

 ********************

 अधूरी मोहब्बत मिली तो नींदें भी रूठ गयी,
गुमनाम ज़िन्दगी थी तो
कितने सुकून से सोया करते थे.


 ********************




 रिहाई दे दो हमें अपनी मोहब्बत की कफस से,
कि अब ये दर्द हमसे और सहा नहीं जाता।

 ********************

 वो जो तुमसे रुबरु करवाता है,
आजकल वो आइना भी हमसे रूठा है।

 ********************

 रास्ते वही होंगे और नज़ारे वही होंगे,
पर हमसफ़र अब हम तुम्हारे नहीं होंगे।

Post a Comment

0 Comments