Latest शायरी in Hindi Status Image for FB, Whatsapp ...

मुझे ना ढूंढ ज़मीन-ओ-आसमां की गर्दिशों में...
मैं अगर तेरे दिल में नहीं तो कहीं भी नहीं…

*****************************

 जिन्दगी इन्सान को कहाँ से कहाँ ले आती है,
एक पल खुशी तो दुसरे पल गम दे जाती है...!

*****************************

 जरा देखो तो ये दरवाजे पर दस्तक किसने दी है.?
अगर 'इश्क' हो तो कहना, अब दिल यहाँ नही रहता...

 *****************************

 જિંદગી ની કસોટી ના કોઈ ગુણાંક નથી હોતા સાહેબ,
કોઈ તમને દિલ થી યાદ કરે તો સમજી લેજો કે પાસ થઈ ગયા..



 मैंने भी बदल दिए है जिन्दगी के उसूल। अब
जो याद करेगा सिर्फ वही याद रहेगा।

 *****************************

 Tera Qasoor Nahi Mujhe Ghussa Hai Apne Hi Dil Par ...
Nahi Dekhi Oqaat Apni Aur Bas Samma Liya Tujhe Khud Mein.

 *****************************

 लफ्ज़ , अल्फाज, कागज, कलम, सब बेईमानी है...
तुम कहते रहो , हम सुनते रहें, बस इतनी सी कहानी है !!!

 *****************************

 दरद ए महोब्बत तो हमने भी बहुत की ।
पर भूल गए थे कि heroin कभी villain कि नही होती....।

 *****************************

 "मोहब्बत आज़मानी हे तो बस इतना ही काफी है...
ज़रा सा रुठकर देख लो मनाने कौन आता है...

 *****************************

 सांसों के सिलसिले को ना दो ज़िन्दगी का नाम,
जीने के बावजूद भी,मर जाते हैं कुछ लोग !

 *****************************

 जिनके इरादे "मेहनत" की साही से लिखे होते है,
उनकी "किसमत"के पन्ने कभी खाली नहीं होते..

 *****************************

 वो दोलत क्या मिलेगी बादशाहों के ख़जाने मैं ,
जो मैंने पाई है माँ-बाप के पाँव दबाने मैं।

 *****************************

 अकेले में तुम्हारी याद आना अच्छा लगता है,
तुम्ही से रूठना तुमको मनानाअच्छा लगता है।

 *****************************

 तेरी याद जब आती है तो उसे रोकते नही हैं हम,
क्यूँकि जो बगैर दस्तक के आते हैं वो अपने ही होते हैं...!!!

 *****************************

 अपने दुश्मन को भी साये में लिए बैठे हैं,
हमने पाया है विरासत में मोहब्बत करना |।

 *****************************

 अब हमारा जिक्र भी होना चाहिए ,
हीर रांझा की कहानी आखिर कब तक ...

 *****************************

 તારા વગર,એકલા ચાલવાની કોશિશ તો કરુ છું,
છતાંય ઠોકર વાગે ત્યારે....તો તારો જ હાથ શોધુ છું...!!

 *****************************

 હથેળી તારા હાથ માં આપી દીધી જ્યારે,
રેખાઑ જોવાની જરુર ખરી.. મારે ??
- ઘાયલ
 *****************************

 धार्मिक बनकर लड़ने से अच्छा हैं...
नास्तिक बनकर शांति से जियो...!!!

 *****************************

 कृष्ण ने राधा से पूछा: ऐसी एक जगह बताओ, जहाँ में नहीं हूँ?
राधा ने मुस्कुराके कहा, `बस मेरे नसीब में`!...

 *****************************

 कुछ लोग पसंद करने लगे है अल्फाज मेरे;
मतलब मोहब्बत में बरबाद और भी हुए है...!!

 *****************************

 " चेहरे “अजनबी” हो जाये तो कोई बात नही"
"लेकिन रवैये “अजनबी” हो जाये तो बडी “तकलीफ” देते हैं...लककी "

 *****************************

 वो बोली छोड कलास को Film देखने चलते हैं, मै बोला,
इतनी Selfish ना बन उनके लिए भी सोच जो मेरे लिए Class में आती है.. :-

 *****************************

 वक्त आपका है चाहे तो सोना बना लो या सोने में गुजार दो..
दुनिया आपके " उदाहरण " से बदलेगी आपकी " राय " से नहीं.. चलते रहिए....

  ***************************** 

 "पराजय तब नहीं होती हे ! जब आप गिर जाते हो!
पराजय तब होती हे ! जब आप उठने से इनकार कर देते हो" !!

 *****************************

 'समय' न लगाओ तय करने में, आप को करना क्या है ?
वरना 'समय' तय कर लेगा कि, आपका क्या करना है.

 *****************************

 प्रीत न कीजिए पंछी जैसी, जल सूखे उड जाय,
प्रीत तो कीजिए मछली जैसी, जल सूखे मर जाय.

 *****************************

 गरीब वो नहीं जिसके पास संपति नहीं है...
गरीब वो है जिसके पास मुस्कुराहट नहीं है...

 *****************************

 Behind every successful man there is a woman...
Because women don't run behind unsuccessful men !

 *****************************

 हुये हैं कुछ यूँ फिदा उनकी सेल्फी पर...
अब ना तो होश है और ना ही कोई और खयाल

*****************************

 “या रब....तूने तो लाखों की तकदीर सँवारी है..."
"मुझे दिलासा तो दे...कि अब मेरी बारी है...लककी "

 *****************************

  देखो तो सही उनकी चाहत में , क्या नोबत आ गई,
ये हवा भी अब ताना मार ने लगी की , तुम तडपते रह गए,
और मैं तो उन्हें छु कर आ गई' !!!

 *****************************

 કોઈને નહિ પણ કદાચ મને સમજાય છે.....
આવે તું યાદ ત્યારે, મૌસમ અહી બદલાય છે' સુપ્રભાત

 *****************************

 मेरे पीठ पर जो जख्म है वो अपनों की निशानी हैं,
वरना सीना तो आज भी दुश्मनो के इंतजार मे बैठा है…

 *****************************

 इतनी चाहत से न देखा कीजिए महफ़िल में आप,
शहर वालों से हमारी दुशमनी बढ़ जायेगी..

 *****************************

 Teri tasveer hi jab itna sukun deti hay muje .
Khuda jane wo aalam kaysa hoga jab tum gale lagao gi

 *****************************

 इश्क़ करने वाले तेरे कूँचे में आते है प्यार पाने के लिए,
जैसे कोई जाता है खुदा के पास दुआ पाने के लिए।।

 *****************************

जिंदगी मेरे कानो मे अभी होले से कुछ कह गई,
उन रिश्तो को संभाले रखना जिनके बिन गुज़ारा नहीं होता

 *****************************

 मिलावट है तेरे हुस्न में इत्र और शराब की,
तभी मैं थोड़ा सा महका हूँ, थोड़ा बहका हूँ...!!!

 *****************************

 जली को आग कहते हैं, बुझी को राख कहते हैं,
जिसका Missed Call देखते ही दारु उतर जाये उसे 'बाप' कहते हैं..

 *****************************

 कैसे बनेगा अमीर वो हिसाब का कच्चा भिखारी,
एक सिक्के के बदले जो बेशकीमती दुआए दे देता है....

 *****************************

 इतना आसान नहीं है,
जीवन का हर किरदार निभा पाना..
इंसान को बिखरना पड़ता है,
रिश्तों को समेटने के लिए... ।

 *****************************

 टूट जाता है गरीबी मे वो रिशता जो खास होता है
हजारो यार बनते है जब पैसा पास होता है.

 *****************************

 जो झुकते हैं ज़िन्दगी में वो बुज़दिल नही होते....
यह हुनर होता हैं उनका हर रिश्ता निभाने का!!!

 *****************************

 એક વૃક્ષ અપલોડ કરી જુઓ,,
વાદળોનું ટોળું આવશે લાઇક કરવા..!!

 *****************************

 વરસોથી સંઘરી રાખેલી દિલની વાત જણાવું છું
મમતા રાખીને સાંભળજો હું તમને બહુ ચાહું છું

 *****************************

 तू होश में थी फिर भी हमें पहचान ना पाई,
एक हम हैं कि पी कर भी तेरा नाम लेते रहे......

 *****************************

  सिगारेट जलाई थी उसकी याद भुलाने के लिए पर ,
कमबक्त धुवे ने उसकी ही तस्वीर बना दी !

 *****************************

 कहाँ ये जानते थे कि रस्में उल्फ़त कभी यूँ भी निभानी होगी,
तुम सामने भी होंगे और हमें नज़रे झुकानी होगी.!!

 *****************************

 टूट जायेंगी उसकी “ज़िद” की आदत उस वक़्त…
जब मिलेगी ख़बर उनको की याद करने वाला अब याद बन गया है…

 *****************************

 मेरी ...बिगडी आदतों में ...शुमार है आज़ भी...
तुम्हें सोचना.. तुम्हें चाहना ..और चाहते रहना..!!!

 *****************************

 वो लाख तुझे पूजती होगी मगर तू खुश न हो ऐ खुदा,
वो मंदिर भी जाती है तो मेरी गली से गुजरने के लिए.

 *****************************

 प्यार करने की अपनी रीत हैं,प्यार का दूसरा नाम प्रीत हैं।
इसलिए प्यार करो उसके बाप के सामने, क्योंकी डर अागे जीत है!!!

 *****************************

 ऐसे मुस्काई मुझे देखकर ले गई चुरा के मेरा दिल जिगर
रबा मेरे रबा क्या खूब है कितना हांसी आप का अंदाज हैं,

 *****************************

 सजा है मौसम तुम्हारी महक से आज फिर;
लगता है हवायें तुम्हें छू कर आयी हैं।


 *****************************

 जिन्दगी सरक रही है मुठ्ठी में पकडी रेत की तरह,
कुछ पल तो जी लें, समन्दर मे बहती लहरों की तरह..

 *****************************

 जिन्दगी सरक रही है मुठ्ठी में पकडी रेत की तरह,
कुछ पल तो जी लें, समन्दर मे बहती लहरों की तरह...

 *****************************

 મિલનની ઝંખના તો જો! કે તારી શોધ કરવામાં,
લીધી છે રાહ એવી પણ કે જે તારી ગલી નહોતી!

 *****************************

 रेस वो लोग लगाते है जिसे अपनी किस्मत आजमानी हो...
हम तो वो खिलाडी है जो अपनी किस्मत के साथ खेलते है!!!

 *****************************

 ना किसी से ईर्ष्या, ना किसी से कोई होड़,
मेरी अपनी मंजीले, मेरी अपनी दौड़ !

 *****************************

 जो चीज़ मेरी है उसे मेरे सिवा कोई और ना देखे,
.इंसान भी मोहब्बत में बच्चों की तरह सोचता है..।।






Post a Comment

0 Comments