Romantic Shayari, Best Romantic Sms, New Romantic Shayari

Dial Se…………
साथ छोडने वालो को सिफॅ ऐक बहाना चाहिए,
वरना निभाने वाले मौत के दरवाजे तक साथ नही छोडते.

**********************

 सिर्फ मैं हाथ थाम सकूँ उसका....
मुझ पे इतनी इबादत सी कर दे..
वो रह ना पाऐ एक पल भी मेरे बिन...
ऐ खुदा तू उसको मेरी आदत सी कर दे..

 **********************

 चला कर नैनो का खंजर, घायल मेरा दिल किया,
यारो उस सनम ने, मेरा ही जिना मुश्किल किया।

 **********************

 गम ने हसने न दिया,
ज़माने ने रोने न दिया,
ईस उलझन ने चैन से जीने न दिया,
थक के जब सितारोँ से पनह ली,
नीँद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया। 



मुझे सोने नहीं देते तेरी यादों के घुँघरू ..........
हमेशा बजते रहते हैं मेरी साँसो के साथ-साथ ....

 **********************

 अगर तुम उसे ना पा सको जिसे तुम चाहते हो तो,
उसे जरूर पा लेना जो तुम्हे चाहता है,
क्यों कि
चाहने से चाहे जाने का एहसास बहुत ज्यादा ख़ूबसूरत होता हैं..

 **********************

 मौहब्बत मुझे थी उनसे इतनी सनम
यादों में दिल तड़पता रहा
मौत भी मेरी चाहत को रोक न सकी
कब्र में भी दिल धड़कता रहा !!

 **********************

 एहसास तो बहुत हैं उसको भी मेरी मोहब्बत का,
वो तड़पाती इसलिए हैं कि मैं और भी टूट कर चाहूं उसे..!!

 **********************

 तुमने ही तो कहा था कि आँखे भर के देख लिया करो मुझे.......
आज आँखे भर आती है पर तुम नजर नहीँ आते......!!

 **********************

  सारा का सारा "कसूर उन तेज "हवाओं का है,
"यारो?
उनकी "जुल्फें सुलझाने की "अदा में हम "दिल
"को "उलझा बैठे...!!

 **********************

 बस एक छोटी-सी दुआ है.....
जिन लम्हों में तुम मुस्कुराती हो....
वो लम्हें कभी ख़त्म ना हो..!!!

 **********************

 प्यार से चाहे सारे अरमान माँग लो ,
रूठकर चाहे मेरी मुस्कान माँग लो,
तमन्ना ये है कि ना देना कभी धोखा,
फिर हँसकर चाहे मेरी जान माँग लो 

 **********************

 तलाश करो कोई तुम्हे मिल जाएगा;
मगर हमारी तरह तुम्हे कौन चाहेगा..!!
ज़रूर कोई चाहत की नज़र से तुम्हें देखेगा;
मगर आँखें हमारी कहाँ से लाएगा...

 **********************

 आज तूने वो कह दिया
जिसको सुनने के लिए तरसते थे।
इशारे तो नज़रो से कई बार किये
शायद वो तुम तक न पहुचते थे

 **********************

 फिर वही रात है, रात है खाब की
रात भर खाब में, देखा करेंगे तुम्हें
कांच के खाब है, आंखों में चुभ जाएगें
पलकों में लेना इन्हें आंखों में रूक जाएगें
ये रात है खाब की, खाब की रात है
फिर वही रात है, रात है खाब की....!!

 **********************

 तू छोड़ रहा है तो ख़ता इसमें तेरी क्या,
हर शख़्स मेरा साथ निभा भी नहीं सकता.
- निदा फ़ाज़ली

 **********************

  जिंदगी तो वैसे ही नाराज थी मुझसे
तुम्हारी तवज्जो न देना और भी दर्द देती है।
शबे फुरकत में अपने कभी तो आया करो
तुम्हारे ख्वाब में न आने से नींद भी साथ छोड़ देती है।। 

 **********************

 पनाहो में जो आया हो तो उस पर वार करना क्या,
जो दिल हारा हुआ हो तो उस पर फिर अधिकार करना क्या,
मोहब्बत का मजा तो डूबने की कश्मकस में है,
हो गर मालूम गहराई तो दरिया पार करना क्या...... 

 **********************

 चाहोगे अगर आप मुझे चाहने वालों की तरह
संवर जांऊगी मैं भी बिखरे बालों की तरह

 **********************

 तुम्हें कहने को अल्फाज़ तो सारे चुन लिए थे मैंने,
मगर तुम्हारी ख़ामोशी ने उन्हें होठों तक आने नहीं दिया...

 **********************

 Na main tumhe khona chahta hoon.
Na teri yaad mein rona chahta hoon.
Jab tak hai zindagi hai.....
Main hamesha tumhare sath rahoonga.
Bas yehi baat tum se kehna chahta hoon......

 **********************

 छोटी सी जिन्दगी है, हर बात में खुश रहो,
जो चेहरा पास ना हो उसकी आवाज में खुश रहो,
कोई रूठा हो आप से उसके अंदाज में खुश रहो,
जो लौट के नही आने वाले उनकी याद में खुश रहो,
कल किसने देखा अपने आज में खुश रहो....n

 **********************

 हमारी गली मे ज़रा संभल करआना पगली ......
अगर पैर फिसलगई तो सीधी मेरी_मोहब्बत_में_गिरोगी ..

 **********************

 खोया हूं तुम्हारे खयालो मे जमाने का कोई होश नही
ना समझो मुझे तुम दीवाना इतना भी मै मदहोश नही
चला तेरा जादू कुछ ऐसा धडकन मेरी खामोश नही
नजरें बन गई अब तेरी मुझमें इनका आघोश नही

 **********************

 बहुत खूब सूरत है आखै तुम्हारी
इन्हें बना दो किस्मत हमारी
हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ
अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी

 **********************

 मूझे भूल कर सोना तो अब तेरी आदत बन गई हें...ऐ जान ........
किसी रोज हम सो गये तो .तूझे नींद से भी नफरत हो जाऐगी .

 **********************

 मैं अल्फाज हूँ तेरी हर बात समझता हूँ,
मैं एहसास हूँ तेरे जज्बात समझता हूँ,
कब पूछा मैंने की क्यूँ दूर हो हमसे,
मैं दिल रखता हूँ तेरे हालात समझता हूँ.

 **********************

 टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी 

 **********************

 प्यार की तड़प को दिखाया नहीं जाता,
दिल मे लगी आग को बुझाया नहीं जाता,
लाख जुदाई हो मगर,
ज़िंदगी के पहले प्यार को भुलाया नहीं जाता. 

 **********************

 मुझे मालूम नहीं कि
मेरी आँखों को तलाश किस की है...
पर तुम्हे देखूं
तो बस
मंजिल का गुमान होता है।

 **********************

 गमों की मुझ पर कुछ ऐसी नजर हो गई,
जब भी हम हँसे ये आँखे नम हो गई,
हम रोऐ भी तो वो जान ना सके..
और वो उदास भी हुऐ तो हमें खबर हो गई..!!!

 **********************

 कभी मिलेंगे अजनबी बनके
शायद नयी पहचान हो जाये
यु तो है ये घड़िया मुश्किलो भरी
क्या पता कुछ आसान हो जाये
बहोत हो चुकी ये बदग़ुमानिया
आओ फिर से नादान हो जाये
खोये हुवे तवाज़ून की खातिर
काश ये वक़्त मीज़ान हो जाये
आ साथ चले दर ए खुदा की जानिब
नयी ज़िंदगी की आज़ान हो जाये

 **********************

 आ के ये हवा तेरी ज़ुल्फ़ जो उड़ा देती है
कोई खुशबू सी मेरी धड़कनें बढ़ा देती है
कोई हसीं कातिल मुझे जीने नहीं देता
उल्फ़त कभी ऐसी भी एक सज़ा देती है 

 **********************

 काश मुझे भी कोई प्यार करे
काश मुझे पर भी कोई ऐतबार करे
निकलता हू यूही चाहत की तलाश मे
काश प्यार की राहो मे मेरा भी कोई इंतेज़ार करे

 **********************

 "आज भी अजीज हे मुझे वो तेरी हर निशानी"
"चाहे वो दिल का दर्द हो या,आँखों का पानी......लककी 

 **********************

 किसी के दिल में बसना कुछ बुरा तो नही;
किसी को दिल में बसाना कोई खता तो नही;
गुनाह हो यह ज़माने की नजर में तो क्या;
यह ज़माने वाले कोई खुदा तो नही!

 **********************

 उसने हर नशा सामने लाकर रख दिया और कहा..
सबसे बुरी लत कौनसी है ? मैंने कहा ...तेरे प्यार की..

 **********************

 Maine kabhi bhi nafraton ko mohabat nahi kiya
aur kabhi bhi kiya to mohabaton ki ibadat kiya...

 **********************

 कभी खामोश बैठोगे कभी कुछ गुनगुनाओगे,..
हम उतना याद आयेगे जितना तुम मुझे भुलाओगे

 **********************

 मुझसे नफ़रत ही करनी हैं, तो इरादे मजबूत रखना,
जरा से भी चुके, तो महोब्बत हो जायेगी......

 **********************

 आँखों मे आँसुओं की लकीर बन गई,
जैसी चाहिए थी वैसी तकदीर बन गई,
हमने तो सिर्फ रेत में उँगलियाँ घुमाई थीं,
गौर से देखा तो आप की तस्वीर बन गई

 **********************

 जाने कभी गुलाब लगती हे
जाने कभी शबाब लगती हे
तेरी आखें ही हमें बहारों का ख्बाब लगती हे
में पिए रहु या न पिए रहु, लड़खड़ाकर ही चलता हु
क्योकि तेरी गली कि हवा ही मुझे शराब लगती हे

 **********************

मौसम नही जो पल भर
मे बदल जाऊ
जमीन से दुर कही और
ही निकल जाऊ
पुराने वत्क का सिक्का हूॅ
मुझे फेक न देना बुरे दिनो मे
शायद मै ही चल जाऊ ,
गुड नाईट ♡ रीतिका
♡प्यार हि प्यार है ♡

 **********************

ओ कहते है इश्क न करना,
अगर हो भी जाये तो हद्द से न गुजरना,
कैसे बताये उन्हें की इश्क ही तो जन्नत है,
इस जहां मे इश्क के सिवा रखा क्या है वरना !!

 **********************

तुम्हारे नाम को होंठों पर सजाया है मैंने!
तुम्हारी रूह को अपने दिल में बसाया है मैंने!
दुनिया आपको ढूंढते ढूंढते हो जायेगी पागल!
दिल के ऐसे कोने में छुपाया है मैंने!

 **********************

चेहरे पे मेरे ज़ुलफ को फैलाओ किसी दिन,
क्या रोज़ गरजते हो बरस जाओ किसी दिन,
खुश्बू की तरह गुज़रो मेरे दिल की गली से,
फूलों की तरह मुझ पे बिखर जाओ किसी दिन. !!! 

 **********************

सपनों की दुनिया में हम खोते चले गए,
मदहोश ना थे पर मदहोश होते चले गए,
ना जाने क्या बात थी उस चेहरे मे,
ना चाहते हुए भी हम उसके होते चले गए....

**********************

apne milan ki hum intezaar karte hain..
dua mein aapko,khuda se maang liya kartey hain..
rab bhi yeh khubool kare
aapse hum be-intehaan pyaar kartey hain...

 **********************

उसने ये सोच कर मुझे अलविदा
कह दिया कि ,
गरीब लोग हैं , मोहब्बत के
सिवा क्या देंगे ।

 **********************

tum jab bhi chand ko dekho yaad karna mujhe,
ye sochkar nahi ki khubsurat he wo sitaro me
balki ye sochkar ki akela he wo bhi hajaro me

**********************

फरिश्ते ही होंगे जिनका हुआ "इश्क"मुकम्मल
इसांनो को तो हमने सिर्फ बर्बाद होते देखा हे 

**********************

दिल से खेलना हमे आता नहीं
इसलिये इश्क की बाजी हम हार गए
शायद मेरी जिन्दगी से बहुत प्यार था उन्हें
इसलिये मुझे जिंदा ही मार गए 

 **********************

जब खामोस आँखो से बात नहीं होती है.........
ऐसे ही मोहब्बत की शुरूआत होती है.........
तुम्हारे ही खयालो मे खोये रहते है.........
पता नहीं कब दिन और कब रात होती है.....

 **********************

अक्सर मन से की हुई दुआए ही कबूल होती है।
बे-मन से की हुई दुआए कबूल होती नहीं है।।

**********************

Nozo andaze se kehte he ki jeena hoga..
Zahar bhi dete he,or kehte he ki, peena hoga. .
Jab main peeta ho,to kehti he ki, marta hi nahi..
Or jab main marta hoon to kehti he ki jeena hoga..

 **********************

आहे जो भरते थे रात दिन तेरी यादो में,
अदायगी थी वसीयतें कर्ज की वो और क्या था ।
कई कई राते सिर्फ करवटों में ही बिता दी मैंने,
सलवटे जो आई थी बिस्तर पर वो और क्या था।।

 **********************

नज़र को नज़र की खबर ना लगे,
कोई अच्छा भी इस कदर ना लगे,
आपको देखा है बस उस नज़र से,
जिस नज़र से आपको नज़र ना लगे…!

 **********************

Mana Ki Kismat Per Mera Koyi Jor Nahi,
Par Ye Such h Ki Mohabbat Meri Kamjor
Nahi,
Us Ke Dil Me, Uski Yaado Me Koi Aur Hai
Lekin,
Meri Har Saans Mein Uske Siwaa Koi Aur
Nahi..

 **********************

 काश की तलाशी ए दिल,
कोई ले पाता,
कौन हैं हमदर्द,
कौन हैं काफिर पता लग जाता
smile emoticon

 **********************

 मेरी ज़िन्दगी किसी की जागीर नही है,
अन्धेरी कोठरियां मेरी तकदीर नही है,
क्यूं दबाया जाता है हर फैंसले मे मुझको,
क्यूं मेरे हाथो मे किस्मत की लकीर नही है

 **********************

 तुम को तो जान से प्यारा बना लिया;
दिल को सुकून आँख का तारा का बना लिया;
अब तुम साथ दो या ना दो तुम्हारी मर्ज़ी;
हम ने तो तुम्हें ज़िन्दगी का सहारा बना लिया।

 **********************

 मुझे मालूम है मैं उस के बिना ज़ी नहीं सकता...
उस का भी यही हाल है मगर किसी और के लिए !

 **********************

 जो मेरे "लफ्ज़ो" को इस मुकाम तक पहुँचाया है,
वरना दिल के दर्द को इतनी शिद्दत से कौन पढता है ||

 **********************

 आप को पा कर अब खोना नहीं चाहते,
इतना खुश हो के अब होना नहीं चाहते,
ये आलम है हमारा आप की जुदाई में,
आँखो में निंद है और सोना नहीं चाहते..

 **********************

 Uljhan agar hai to humse na
chhupana.
sath na de juban to aankho se
batana.
Har kadam par sath hai hum apke,
Dost banaya hai to haq jarur
jatana..

 **********************

 इरादों में अभी भी क्यों इतनी जान बाकी है,
तेरे किये वादों का इम्तिहान अभी बाकी है,
अधूरी क्यों रह गयी तुम्हारी यह बेरुखी,
जबकि दिल के हर टुकड़े में तेरा नाम बाकी है.

 **********************

 Har Ek Saans Pe Tera Khayal Rehta
Hai, Meri Nazro Me Tera Sawal
Rehta Hai, Tu Ek Baar Meri
Yaado Se Gujar Kar To Dekh,
Tere Bina Mera Kya Haal Rehta Hai.

 **********************

 Kabi Kabi Ye Sab Apna Khayal Lagta Hai
Wo Mera Hai Bhi Ya Nahi Uljha Sawal Lagta Hai
Mai Wafa Karke Bhi Badnamiyon Me Hu
Wo Bewafa Hai Magar Bemisaal Lagta Hai...!

 **********************

 Reh Na Jaaye Koi Kami Pyar Mein
Mere, Aa Tujhe Main Apni
Baahon Bhar Lu, Koi Gham Kabhi
Choo Bhi Na Paaye Tujhe, Tera
Har Gham Main Apne Naam Kar Lu.

 **********************

  Har Ek Saans Pe Tera Khayal Rehta
Hai, Meri Nazro Me Tera Sawal
Rehta Hai, Tu Ek Baar Meri
Yaado Se Gujar Kar To Dekh,
Tere Bina Mera Kya Haal Rehta Hai.

 **********************

 मेरी आँखों को सपने फिर दिखा गया कोइ,
बुझती सासों में महक फिर जगा गया कोइ,
क्या यह सच मुच प्यार है,
या उल्लू फिर से बना गया कोइ.

Post a Comment

0 Comments