Cute Love Shayari For Girlfriend-Boyfriend, Best Love Sms

कुछ बातों के मतलब हैं
और कुछ मतलब की बातें, . . .
जब से फर्क समझा,
जिंदगी आसान हो गई!!

 ******************
 
 दुरिया खलती है मुझे....
इतने करीब रिश्तों में...!!
कि आ भी जाओ मेरे पास. ..
यु ना मोहब्बत दो मुझे किश्तो मे..!!

 ******************

 इतना भी गुमान न कर
आपनी जीत पर ऐ बेखबर,
शहर में तेरे जीत से ज्यादा
चर्चे तो मेरी हार के हैं..!!

 ******************

 सोने के जेवर ओर हमारे तेवर
लोगो को अक्सर बहोत मेंहगे पडते हे.

 ******************

 तुम खुश-किश्मत हो जो
हम तुमको चाहते है वरना,
हम तो वो है जिनके ख्वाबों मे
भी लोग इजाजत लेकर आते है..!!



 वो खुद पर गरूर करते है,
तो इसमें हैरत की कोई बात नहीं,
जिन्हें हम चाहते है,
वो आम हो ही नहीं सकते !!

 ******************

 मोहब्बत है मेरी इसीलिए दूर है मुझसे,
अगर जिद होती तो शाम तक बाहों में होती ।

 ******************

 तुम जिन्दगी में आ तो
गये हो मगर ख्याल रखना,
हम जान दे देते हैं
मगर जाने नहीं देते !!

 ******************

 मेरे बारे में इतना मत सोचना ,
दिल में आता हूँ , समज में नही ।

******************

 तेरी तो फितरत थी सबसे मुहब्बत करने की,
हम तो बेवजह खुद को खुशनसीब समझने लगे

 ******************

 खुद ही दे जाओगे तो बेहतर है..!
वरना हम दिल चुरा भी लेते हैं..!

 ******************

 जा माफ़ किया जी ले
अपनी मर्ज़ी की ज़िन्दगी ,
हम मोहब्बत के बादशाह है
बेवफाओं को मुँह नहीं लगाते।

******************

 यूँ तो हादसों में गुजरी है हमारी ज़िंदगी,
हादसा ये भी कम नहीं
कि हमें मौत ना मिली !!

******************

 मुद्दत बाद जब उसने मेरी
खामोश आँखें देखी तो ये
कहकर फिर रुला गया कि
लगता है अब सम्भल गए हो

 ******************

 कौन कहता है अलग अलग रहते है हमतुम,,
हमारी यादों के सफ़र में हमसफ़र हो तुम…

 ******************

 मुझ को अब तुझ से भी मोहब्बत नहीं रही,
ऐ ज़िंदगी तेरी भी मुझे ज़रूरत नहीं रही,
बुझ गये अब उस के इंतेज़ार के वो जलते दिए,
कहीं भी आस-पास उस की आहट नहीं रही|

 ******************

 बिखरा वज़ूद, टूटे ख़्वाब,
सुलगती तन्हाईयाँ ….
कितने हसींन तोहफे दे जाती है
ये अधूरी मोहब्बत

 ******************

 बारिश‬ के ‪बाद‬ तार पर ‪
टंगी‬ ‪आख़री‬ ‪‎बूंद‬ से पूछना,
क्या‬ होता है ‪‎अकेलापन‬

 ******************

 अरे कितना झुठ बोलते हो तुम..
खुश हो और कह रहे
हो मोहब्बत भी की है

******************

 जिस्म‬ पर ‪‎जो निशान‬ हैं ना ‪‎जनाब‬,
वो ‪बचपन के‬ हैं बाद के‬
तो ‪सारे दिल‬ ‪‎पर है‬ ।।

 ******************

 अपनी जवानी‬ में और ‪रखा‬ ही क्या है‬,
कुछ तस्वीरें‬ ‪‎यार‬ की ‪‎बाकी बोतलें‬ शराब की‬ ।।

 ******************

 हम‬ भी ‪‎किसी‬ की ‪दिल‬
की ‪हवालात‬ में ‪‎कैद‬ थे..!!
फिर‬ उसने ‪‎गैरों‬ के ‪‎जमानत‬
पर हमें ‪ रिहा‬ कर दिया..!!

 ******************

 वो गुस्से में तेरा लब से
मेरे सिगरेट हटा देना उसी
दिलकश अदा की याद
में अब कश लगाते हैं !!

 ******************

 अफ़सोस होता है उस पल जब
अपनी पसंद कोई ओर चुरा लेता है..
ख्वाब हम देखते है..
और हक़ीक़त कोई और बना लेता है.

 ******************

 घुटन सी होने लगी है,
इश्क़ जताते हुए,
मैं खुद से रूठ गया हूँ,
तुम्हे मनाते हुए…

******************

 अखबार तो रोज़ आता है घर में,
बस अपनों की ख़बर नहीं आती. 

******************

 रोज़ ख्वाबों में जीता हूँ वो ज़िन्दगी …
जो तेरे साथ मैंने हक़ीक़त में सोची थी ..

 ******************

 किसी को प्यार करो तो इतना करों की
उसे जब भी प्यार मिलें…
तो तुम याद आओ….

 ******************

 अब अकेला नहीं रहा मैं यारों ….
मेरे साथ अब मेरी तन्हाई भी है।

 ******************

 अल्फ़ाज़ के कुछ तो कंकर फ़ेंको,
यहाँ झील सी गहरी ख़ामोशी है।

 ******************

 हुस्न वाले जब तोड़ते हैं दिल किसी का,
बड़ी सादगी से कहते है मजबूर थे हम….

******************

 मुमकिन नहीं शायद किसी को समझ पाना
बिना समझे किसी से क्या दिल लगाना

 ******************

 आज उस की आँखों मे आँसू आ गये,
वो बच्चो को सिखा रही थी
की मोहब्बत ऐसे लिखते है….

 ******************

 ना जाने क्या कमी है मुझमें,
ना जाने क्या खूबी है उसमें,
वो मुझे याद नहीं करती,
मैं उसको भूल नहीं पाता 

 ******************

 कोई मिला नहीं तुम
जैसा आज तक,
पर ये सितम अलग है
की मिले तुम भी नही

 ******************

  मुझे भी शामिल करो गुनहगारों की महफ़िल में ,
मैं भी क़ातिल हूँ अपनी हसरतों का ,
मैंने भी अपनी ख्वाहिशों को मारा है।

 ******************

 खुल जाता है तेरी यादों का बाजार सुबह सुबह
और हम उसी रौनक में पूरा दिन गुजार देते है.

 ******************

 बड़ी अजीब सी मोहब्बत थी तुम्हारी……
पहले पागल किया..फिर पागल कहा..
फिर पागल समझ कर छोड़ दिया..

 ******************

 याद है मुझे मेरी हर एक गलती,
एक तो मोहब्बत कर ली,
दुसरी तुमसे कर ली,
तिसरी बेपनाह कर ली

 ******************

 हर बार सम्हाल लूँगा गिरो
तुम चाहो जितनी बार,
बस इल्तजा एक ही है कि
मेरी नज़रों से ना गिरना...!!

 ******************

 वफ़ा का दरिया कभी रुकता नही,
इश्क़ में प्रेमी कभी झुकता नही,
खामोश हैं हम किसी के खुशी के लिए,
ना सोचो के हमारा दिल दुःखता नहीं!

 ******************


 गुलाम बनकर जिओगे तो.
कुत्ता समजकर लात मारेगी तुम्हे ये दुनिया
नवाब बनकर जिओगे तो,
सलाम ठोकेगी ये दुनिया….
दम कपड़ो में नहीं,
जिगर में रखो….
बात अगर कपड़ो में होती तो,
सफ़ेद कफ़न में,
लिपटा हुआ मुर्दा भी सुल्तान मिर्ज़ा होता

 ******************

 सुना है काफी पढ़ लिख गए हो तुम,
कभी वो बी पढ़ो जो हम कह नहीं पाते !!

 ******************

 अबकी बार सुलह करले मुझसे ए दिल वादा करता हूँ
की फिर नहीं दूँगा तुझे किसी ज़ालिम के हाथों में

******************

 भुला देंगे तुमको ज़रा सब्र तो कीजिये ,
आपकी तरह मतलबी बनने
में थोड़ा वक़्त तो लगेगा हमें।

 ******************

 मोहब्बत भी हाथों में लगी
मेहँदी की तरह होती है
कितनी भी गहरी क्यों ना
हो फीकी पड़ ही जाती है।

 ******************

 इरादा कतल का था तो
मेरा सिर कलम कर देते ,
क्यों इश्क़ में डाल कर तूने
मेरी हर साँस पर मौत लिखदी।

 ******************

 कौन करता है यहाँ प्यार निभाने के लिये,
दिल तो बस एक खिलौना है जमाने के लिये !!

 ******************

 हमें तो प्यार के दो
लफ़्हज़ भी ना नसीब हुए..
और बदनाम ऐसे हुए जैसे
इश्क़ के बादशाह थे हम

 ******************

 तुम जिन्दगी में आ तो
गये हो मगर ख्याल रखना,
हम जान तो दे देते हैं...
मगर जाने नहीं देते...

 ******************

 उँगलियाँ मेरी वफ़ा पर तो ना उठाओ,
जिसे हो शक़ वो मुझसे निभाकर देखे...

******************

 अगर फुर्सत के लम्हों में मुझे
याद करते हो तो अब मत करना,
क्योंकि मैं तन्हा जरूर हूँ ...
मगर फ़िज़ूल बिलकुल नहीं...

******************

 किसी के दिल में क्या छुपा है
ये बस खुदा ही जानता है,
दिल अगर बेनकाब होता तो
सोचो कितना फसाद होता.

 ******************

 तुझसे अच्छे तो जख्म हैं मेरे
उतनी ही तकलीफ देते हैं
जितनी बर्दाश्त कर सकूँ ।।

 ******************

 चाहत देस से आनेवाले ये
तो बता के सनम कैसे हैं ..?
दिलवालों की क्या हालत हैं,
यार के मौसम कैसे हैं ...

 ******************

 क़ानून तो सिर्फ बुरे लोगों के लिए होता है....!
अच्छे लोग तो शर्म से ही मर जाते हैं...!!

******************

 तेरे ना होने से बस इतनी सी कमी रहती है
मै लाख मुस्कुराउ आखो मे नमी सी रहती है.

 ******************

 उसने दरिया में डाल दी होगी
मेरी मोहब्बत भी.... एक नेकी थी

 ******************

 न समझ मैं भूल गया हूँ तुझे,
तेरी खुशबू मेरे सांसो में आज भी हैं ।
मजबूरियों ने निभाने न दी मोहब्बत,
सच्चाई मेरी वफाओ में आज भी हैं ।

 ******************

 परछाई आपकी हमारे दिल में है,
यादे आपकी हमारी आँखों में है,
कैसे भुलाये हम आपको,
प्यार आपका हमारी साँसों में है.

 ******************

 इश्क़ सभी को जीना सिखा देता है,
वफ़ा के नाम पर मरना सीखा देता है,
इश्क़ नहीं किया तो करके देखो,
ज़ालिम हर दर्द सहना सीखा देता है!

******************

 बरबाद कर देती है मोहब्बत,
हर मोहब्बत करने वाले को,
क्योंकि इश्क़ हार नही मानता,
और दिल बात नही मानता।

 ******************

 नफरतों के जहान में हमको
प्यार की बस्तियां बसानी हैं,
दूर रहना कोई कमाल नहीं,
पास आओ तो कोई बात बने।

 ******************

 जोश-ए-जुनूँ में लुत्फ़-ए-तसव्वुर न पूछिए,
फिरते हैं साथ साथ उन्हें हम लिए हुए।

 ******************

 तेरी खूबसूरती की तारीफ में क्या लिखूं,
कुछ खूबसूरत शब्दों की अभी तलाश है मुझे...

Post a Comment

0 Comments