Bewafa Shayari in Hindi For Love Girlfriends & Boyfriends Status

प्यार किया था तो प्यार का अंजाम कहाँ मालूम था!
वफ़ा के बदले मिलेगी बेवफाई कहाँ मालूम था!
सोचा था तैर के पार कर लेंगे प्यार के दरिया को!
पर बीच दरिया मिल जायेगा भंवर कहाँ मालूम था!

*****************************

 Ham un se mahobbat krke ....
Din rat sanam rote hai ......
Meri nind gyi ....
Mera chain gya ...
Or chain se vo sote hai 


*****************************

 एक अजीब दास्तान है मेरे अफसाने की,
मैने पल पल कोशिश उसके की पास जाने की,
किस्मत थी मेरी या साजिश थी ज़माने की,
दूर हुई मुझसे इतना जितनी उमीद थी करीब आने की.. 


*****************************

 पास आकर सभी दूर चले जाते हैं;
अकेले थे हम, अकेले ही रह जाते हैं;
इस दिल का दर्द दिखाएँ किसे;
मल्हम लगाने वाले ही जखम दे जाते हैं!




 टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
के मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी ..


*****************************

 Bewafa hai duniya kisi ka aitbaar na karo..
har pal dete hai dhokha kisi se pyaar na karo
mit jaao tanha jee kar
par kisi ke saath ka intezaar na karo...


*****************************

 तेरी चौखट से सिर उठाऊं तो बेवफा कहना;
तेरे सिवा किसी और को चाहूँ तो बेवफा कहना;
मेरी वफाओं पे शक है तो खंजर उठा लेना;
शौंक से मर ना जाऊं तो बेवफा कहना।


*****************************

 ज़ख़्म जब मेरे सिने के भर जाएँगे,
आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे,
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया,
वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे...


*****************************

 उसके ना होने से कुछ भी नहीं बदला मुझ में;
बस जहाँ पहले दिल रहता था वहाँ अब सिर्फ दर्द रहता है।


*****************************

 तु मुझे छोड़कर चली गई इसका मुझे कोई दुख नहीं..
अगर वापिस आकर तुने मेरी दुसरी सेटिंग बिगाडी तो मुझसे बुरा कोई नहीं..


*****************************

 आग दिल में लगी जब वो खफा हुए;
महसूस हुआ तब, जब वो जुदा हुए;
करके वफ़ा कुछ दे ना सकें वो;
पर बहुत कुछ दे गए जब वो बेवफा हुए।


*****************************

 मुस्कुराते हुए पलकों पे चले आते हैं..
क्या ख़बर कहाँ से गम चले आते हैं..
आज भी उसी मोड़ पे खड़ा हूँ मै..
जहाँ कहा था आपने, हम अभी आते हैं..!!! 


*****************************

 Zarurat Nahi Aaj Mohabbat Ki Hame...
Kal Jab Thi Tab Use Ghurur Tha...
Hum Hi Naye The Ishq Ke Shahar Me Jo Na Jaan Paye...
Ke Uska Ghar To Bewafai Ke Liye Mashhur Tha...!! 


*****************************

 हसीनो ने हसीन बनकर गुनाह किया,
औरों को तो क्या, हमको भी तबाह किया.!!
पेश किया जब ग़ज़लों में हमने, उनकी बेवफ़ाई को,
औरों ने तो क्या, उन्होने भी वाह-वाह किया.!! 


*****************************

 इतनी मुश्किल भी ना थी राह मेरी मुहब्बत की,
कुछ ज़माना खिलाफ हुआ कुछ वो बेवफा हो गए…!!!


*****************************

 Mai Chahata Tha Wafaa Unse,
Unhone Humein Bhula Diya,
Isi Tadapte Gum Ne Yaroo,
Mujhe Shayar Bana Diya.


*****************************

 Barbaad Kr Gayee Woh Zindgee Pyar Kay Naam Sy
Baywafai Milee Sirf Wafaa Ky Naam Sy
Zakhm Hee Zakhm Diyee Uss Nay Dawaa Ky Naam Sy
Aasmaan B Ro Paraa Mere Mohabat Kay Naam Sy


*****************************

 इश्क में दिल को ठेस लगाना तुम बेवफा का रस्म निभाना
बंदा ये कमजोर बहुत है मौत के दर तक छोड़के आना
तेरी गली में कांटे हैं कितने लेकिन गुलाबों का नहीं ठिकाना
क्या-क्या सितम भूल चुका हूं ऐ दिल कभी न याद दिलाना


*****************************

 Ham Intezar Kartey Rahey
Par Tum Naa Aaye
Pyaasa Dil Terey Gam Main Tadapta Rhey
Par Tum Toh Nazrey Jhukakey Chaley Gae.


*****************************

 हर भूल तेरी माफ़ की..
हर खता को तेरी भुला दिया..
गम है कि, मेरे प्यार का..
तूने बेवफा बनके सिला दिया|


*****************************

 वो तो दिवानी थी मुझे तन्हां छोड़ गई;
खुद न रुकी तो अपना साया छोड़ गई;
दुख न सही गम इस बात का है;
आंखो से करके वादा होंठो से तोड़ गई !!!


*****************************

 Tum kya jano kya hai tanhai,
Is tute huye patte se puchho kya hai judai,
Yun bewafa ka ilzam na de zalim,
Is waqt se puchho kis waqt teri yaad na aayi.


*****************************

 Zakham dene wala to is baat se anjan hai,
Par us-se mila hua dard hamare paas hai,
Chubhne par kitni taklif hoti hai,
Kya kaanch ke us tukde ko bhi iska ehsas hai.


*****************************

 Kuchh baatein karke woh hamein rula ke chale gaye,
Hum na bhoolenge yeh ehsas dila ke chale gaye,
Aayenge kab wo ab to ye dekhna hai saari umar,
Bujh rahi hain wo aag jise wo jala ke chale gaye.


*****************************

 जख्म दे जाती है उसकी आवाज मुझको आज भी..
जो बरसों पहले चुपके से कहती थी..बहुत प्यार करती हूँ तुमसे..


*****************************

 Na zindagi mili na wafa mili
Kyun har khushi hum se khafa mili
Jhoothi muskaan liye dard chupaate rahe
Sachche pyaar ki kya saza mili


*****************************

 Buhat udaas hain koi tere jaane se,
Ho sake to laut ke aa kisi bahane se,
Tu lakh khafa sahi magar ek baar to dekh,
Koi toot gaya tere ruth jaane se.


*****************************

 Khel ko uske samajh na sake hum,
Aur wafaien uspe nisaar kar baithe,
Maqtool bhi hum maqsood bhi hum sacche hue,
Woh aur hamein beviqaar kar baithe..


*****************************

 Dard kitne hain bata nahi sakta,
Zakhm kitne hain dikha nahi sakta,
Aankhon se samajh sako to samajh lo,
Aansoon gire hain kitne gina nahi sakta.


*****************************

 Zindagi se poocho yeh kya chaahati hai,
Bus ek usi ki wafa chaahati hai,
Kitni masoom aur naadan hai zindagi,
Khud bewafa hai aur wafa chahati hai


*****************************

 अश्कों से नहीं बुझते शोले दर्द - ए -प्यार के....
मौत भली इस लम्बे इंतजार से....
मरते हैं रोज़ बिना दीदार -ए -यार के...
तन्हाई अच्छी थी उस बेवफा के प्यार से....!!


*****************************

 मोहबत में लाखों ज़खम खाए हमने
अफ़सोस उन्हें हम पर ऐतबार नहीं
मत पुछो क्या गुज़रती हे दिल पर
जब वो कहते हे हमें तुमसे प्यार नहीं..


*****************************

  Ye Dunia Gamo Ka Mela Hai
Humne Bhi Har Gam Jhela Hai
Kare Hum Usne Kya Shikwa
Yaha Par Har Koi Akela Hai..!


*****************************

 तुझे भुलाने के हज़ार तरीक़े सोचता रहा रात भर,
और इस तरह तेरी याद में एक रात और गुज़र गयी..!!


*****************************

 Waqt ki tanhai se khelna sikh gay.
uski bevfai me jina sikh gaye.
Kya kahe kis kadar tuta he dil mera.
mout se pahale kafan odkar sona sikh gaye.


*****************************

 "इस दुनियाँ में सब कुछ बिकता है,
फिर जुदाई ही रिश्वत क्युँ नही लेती?
मरता नहीं है कोई किसी से जुदा होकर,
बस यादें ही हैं जो जीने नहीं देती..". 


*****************************

 टूट कर भी कम्बख्त धड़कता रहता है,
मैने इस दुनिया मैं दिल सा कोई वफादार नहीं देखा..


*****************************

 पास आकर सभी दूर चले जाते हैं,
हम अकेले थे अकेले ही रह जाते हैं,
दिल का दर्द किससे दिखाए,
मरहम लगाने वाले ही ज़ख़्म दे जाते हैं. 


*****************************

 Hum to tere dil ki mehfil sajane aye the,
Teri kasam tujhe apna banane aye the.
Kis baat ki saza di tune hum ko,
Bewafa hum to tere dard ko apnane aye the.


*****************************

 Jee bhar kar rote hai to karar milta hai,
Is jahan mein kaha sabko pyar milta hai,
Jindgi gujar jati hai imthano ke dour se,
Ek jakhm bharta hai to dusra taiyar milta hai...!! 


*****************************

 Na zindagi mili na wafa mili
Kyu har Khushi hamse khaafa mili
Jhooti muskan liye dard chhupate rahe
Sachi mohabbat ki kya khoob saza mili..


*****************************

 काली घटा घनघोर हैं छाई एक तरफ मेरी तन्हाई ....,
सब कुछ लुट गया हो जैसे जब से हुई तुम से जुदाई...,
बहुत प्यार किया था तुम से मैने तेरी हर गलती अपनाई....,
भूल सकूॅंगा न में तुम को करले तु चाहें लाख बेवफाई....!!


***************************** 

 "हर मुलाकात पर वक्त का तकाज़ा हुआ..
हर याद पे दिल का दर्द ताजा हुआ..
सुनी थी सिर्फ हमने गज़लों मे जुदाई की बातें..
अब खुद पे बीती तो हकीकत का अंदाजा हुआ."... 


*****************************

 "दर्द दे कर इश्क़ ने हमे रुला दिया,
जिस पर मरते थे उसने ही हमे भुला दिया,
हम तो उनकी यादों में ही जी लेते थे,
मगर उन्होने तो यादों में ही ज़हेर मिला दिया.".. 


*****************************

 जो मेरा था वो मेरा हो नहीं पाया;
आँखों में आंसू भरे थे पर मैं रो नहीं पाया;
एक दिन उन्होंने मुझसे कहा कि;
हम मिलेंगे ख़्वाबों में पर मेरी बदकिस्मती तो देखिये;
उस रात तो मैं ख़ुशी के मारे सो भी नहीं पाया। .....


*****************************

 ज़ख़्म जब मेरे सीने के भर जाएँगे; आँसू भी मोती बनकर बिखर जाएँगे;
ये मत पूछना किस किस ने धोखा दिया; वरना कुछ अपनो के चेहरे उतर जाएँगे। 


*****************************

 दर्द ही सही मेरे इश्क का इनाम तो आया; खाली ही सही हाथों में जाम तो आया;
मैं हूँ बेवफ़ा सबको बताया उसने; यूँ ही सही, उसके लबों पे मेरा नाम तो आया। 


*****************************

 Chaha tha humne jise use bhulaya na gaya,
Zakhm dil ka logon se chhupaya na gaya,
Bewafai ke baad bhi itna pyar karti hu ki,
Bewafa ka ilzaam bhi us par lagaya na gaya…


*****************************

 साए ने साथ छोड़ दिया यार ने दिल तोड़ दिया,
अब तो खुदा भी मेरे खिलाफ हो गया,
जो प्यार का चिराग जलाया था मैने,
उसी चिराग से जलकर मैं खाक हो गया


*****************************

 वो अगर हमे छोड़ कर खुश है तो शिकायत क़ैसी
और अगर मै उसे खुश भी न देखूँ तो मोहबत्त क़ैसी
उसने मोहबत्त का वो सिला दिया
मुझे जीते जी जला दिया
कहती है जा भूल जा मुझको
मैने तुझको भुला दिया


*****************************

 दर्द कितने हैं बता नहीं सकता
जख्म कितने है दिखा नहीं सकता
आँखों से समझ सको तो समझ लो
आँसु गिरे है कितने गिना नहीं सकता !!


*****************************

 तू आँसू बहा के निकाल लेती है गुबार दिल का,
मेरी मर्दानगी मुझे इसकी इजाजत नहीं देती ।


*****************************

 मेरी जख्मों पर उसने भी मरहम लगाया,
ये कहकर....
जल्दी से ठीक हो जा,
और भी जख्म देना बाकि है..!!!


*****************************

 Door jakar bhi ham door jaa na sakenge,
Kitna royenge ham bata na sakenge,
Gham iska nahi ki aap mil na sakoge,
Dard is baat ka hoga ki ham aapko bhula na sakenge…


*****************************

 Aesa Jagaya Aapne Ke Ab Tak Na So Sake
Yun Rulaya Aapne Ke Mehfil Mein Hum Ro Na Sake
Na Jaane Kya Baat Hai Aap Mein Sanam
Mana Hai Jabse Tumhe Apna Kisi Ke Hum Ho Na Sake..


*****************************

 Door jakar bhi hum door jaa na sakenge,
Kitna royenge hum bata na sakenge,
Gham iska nahi ki aap mil na sakoge,
Dard is baat ka hoga ki hum aapko bhula na sakenge…


*****************************

 Mar Kar Tamanna Jeene Ji Kishe Nhi Hoti
Ro Ke Khush Hone Ki Tamanna Kishe Nhi Hoti
Keh Toh Diya K Jee Le Ge Apno Ke Bagair
Par Apno Ki Tamanna Kise Nahi Hoti!


*****************************

 अब कहाँ ढूंढे उसे बहुत रात निकल गई.........
यादों में कैद किया उसे, वहां से भी निकल गई . ! 


*****************************

 वो जिनके इश्क़ में हम दीवाने से हो गए है,
अब वही हमको बे-वफ़ा कह के इल्जाम देते है।


*****************************

 जिसने हमे चाहा,उससे चाह ना सके,
जिससे चाहते थे उससे पा ना सके,
ये समझो दिल टूटने का खेल था,
किसी का दिल तोड़ा पर अपना भी बचा ना सके..


*****************************

 दिल उनको ढूँढता है, गम का सिंगार कर के,
आँखे भी थक गयी हैं, अब इंतज़ार कर के,,
एक साँस रह गयी है, वो भी ना टूट जाये,
लो आ गयी उनकी याद, वो नहीं आये.!!


*****************************

 एक यह भरम टूटा मिलने को वो न आया
क्या क्या न मुझपे गुजरी क्या क्या न दिल में आया
पहले भी यूँ तो उसने तोड़े हैं कई वादे
हम तो न बुरा माने हमको न मलाल आया.. 


*****************************

 कौन से लफ्ज़ में मैं दर्द की सदा लिखूं
किस तरह मैं अपने ही दिल को बेवफा लिखूं...
आईने तो टूट जाते हे कभी सुन्दर चेहरों से भी...
पर केसे उनको बेवफा लिखू ....!!!!


*****************************

 Karni thi agar be wafai to hume pehle hi bata dete,
Duniyan bahot hasin he hum kisi our se dil laga lete,


*****************************

 चाहत को मेरी,नफ़रत में बदल दी तूने,
जीत गये थे बाजी,हार में पलट दी तूने,
चूम लेते जो तुम, खिल उठते वो फूल,
लेकर कली को हाथो में, मसल दी तूने,


*****************************

 छूटा जो तेरा हाथ तो हम टूट के रोये
तुम जो ना रहे साथ तो हम टूट के रोये..!
चाहत की तमन्ना थी और ज़ख़्म दिए तुमने
पायी जो यह सौगात तो हम टूट के रोये...!!


*****************************

 माना के मर जाने पर भुला दिए जाते है लोग ज़माने में.,.
पर मैं तो अभी जिन्दा हूँ फिर कैसे उसने मुझे भुला दिया..?


*****************************

 Tu kya jane kaise pilayi jati hai,
Kholne se pehle botal hilayi jati hai,
Fir awaz lagayi jati hai,
Aajao tute dil walo,
Yahan darde dil ki dawa pilayi jati hai!!



Post a Comment

0 Comments