Bewafa Shayari in Hindi For Love Girlfriends

"दिल ही तो टुटा है जिंदगी तो नहीं,
कोई गैर छोड़कर गया है सांसे तो नहीं,
इस तरह कब तक खुदको तकलीफ देते रहोगे,
खुश रहना सीखो जिंदगी में,
उदास तुम्हारा समय है तुम नहीं।
उम्मीद ना छोड़ना कभी तुम, याद रखना,
समय तुमसे रूठ सकता है पर ज़िन्दगी नहीं।"

*********************

 कोई अच्छी सी सज़ा दो मुझको,
चलो ऐसा करो भूला दो मुझको,
तुमसे बिछडु तो मौत आ जाये,
दिल की गहराई से ऐसी दुआ दो मुझको!

 *********************

 खुद को औरों की तवज्जो का तमाशा न करो,
आइना देख लो अहबाब से पूछा न करो,
शेर अच्छे भी कहो, सच भी कहो, कम भी कहो,
दर्द की दौलत-ए-नायाब को रुसवा न करो।

 *********************

 बिखरे अरमान, भीगी पलकें और ये तन्हाई,
कहूँ कैसे कि मिला मोहब्बत में कुछ भी नहीं।



 कहीं किसी रोज़ यूँ भी होता,
हमारी हालत तुम्हारी होती,
जो रात हमने गुज़ारी तड़प कर,
वो रात तुमने गुज़ारी होती।

 *********************

 आशियाँ बस गया जिनका, उन्हें आबाद रहने दो,
पड़े जो दर्द भरे छाले, जिगर में यूँ ही रहने दो,
कुरेदो ना मेरे दिल को, ये अर्जी है जहां वालों,
छिपा है राज अब तक जो, राज को राज रहने दो। 

 *********************

 दर्द इतना था ज़िंदगी में कि
धड़कन साथ देने से घबरा गयी!….
आंखें बंद थी किसी कि याद
में ओर मौत धोखा खा गयी!….

 *********************

 Mila Ke Nazar, Nazar Loot Lenge,
Yeh Bewafa Jalwe Jigar Loot Lenge,
Hasino Pe Hargiz Bharosa Mat Karna Dost,
Maa Kasam Ghar Ke sukoon-e-chain Loot Lenge.

  *********************

 Dard ab aur na de aye khuda main ab seh nahi sakta,
Tu sunta nahi aur main kisi aur se keh bhi nahi sakta,
Wo zakham aise de gaya jo jaate nahi sahe mujhse,
maut aati nahi aur main zinda rehne ki bhik maang nhi sakta.

 *********************

 Khuda Ne Kaash Mohabbat Banayi Na Hoti,
Toh Aaj Iss Tarah Hamare Pyar Ki Ruswayi Na Hoti,
Kaash Unke Dil Mein Zara Si jo Wafa Hoti,
To Iss Tarah Mere Sath aaj Bewafai Na Hoti.

 *********************

 Hum ne to jaan luta di pyar mein,
Mehboob ne hi dhokha de diya hume,
Hum ne to khushiyan maangi thi,
Usne zindagi bhar kaa gham de diya.

 *********************

 Lamha-lamha ye waqt gujar jayega,
Pal do pal mein ye safar yuhi kat jayega,
Abhi waqt hai to do chaar baatein kar lo,
Kaun jaane kab zindagi mein koi aur aa jayega.

 *********************

 Chahte the jinhe unke dil badal gaye,
Samundar to wohi the par sahil badal gaye,
Qatal aisa hua kissto mein main mera,
Kabhi badle khanjar to kabhi Qaatil badal gaye.

 *********************

 वो तो अपना दर्द रो-रो कर सुनाते रहे,
हमारी तन्हाइयों से भी आँख चुराते रहे,
हमें ही मिल गया खिताब-ए-बेवफा क्योंकि,
हम हर दर्द मुस्कुरा कर छुपाते रहे।

 *********************

 हमें देख कर जब उसने मुँह मोड़ लिया,
एक तसल्ली हो गयी चलो पहचानते तो हैं।

 *********************

 एक अजीब सा मंजर नजर आता है, हर एक आँसू संमनद नजर आता है,
कहां रखुं मैं शीशे सा दिल अपना,
हर किसी के हाथ में पत्थर नजर आता है.

 *********************

 जहा से तेरा मन चाहे वहा से मेरी ज़िन्दगी को पढ़ ले तू,
पन्ना चाहे कोई भी हो, हर पन्ने पे तेरा ही नाम होगा.

 *********************

 दर्द आँखों से निकला तो सबने बोला कायर है ये,
जब दर्द लफ़्ज़ों से निकला तो सब बोले शायर है ये!!

 *********************

 “इश्क” का धंधा ही बंघ कर दिया साहेब.
मुनाफे में “जेब” जले.. और घाटे में “दिल”

 *********************

 तू मांग तो सही अपनी दुआओ मे बददुआ
मेरे लिए मै हंसकर खुदा से आमीन कह दूंगा..

 *********************

 इस मोहब्बत की किताब के दो ही सबक याद हुये
कुछ तुम जैसे आबाद हुये कुछ हम जैसे बर्बाद हुये...!

 *********************

 मुझें छोड़कर वो खुश हैं, तो शिकायत कैसी..
अब मैं उन्हें खुश भी न देखूं तो मोहब्बत कैसी..

 *********************

 हर किसी को मैं खुश रख सकूं वो सलीका मुझे नहीं आता..
जो मैं नहीं हूँ, वो दिखने का तरीका मुझे नहीं आता ।

 *********************

 लोग मुझसे पूछते हैं की तुम यार ऐसी शायरियां लाते कहा से हो.
मैंने भी कह दिया की उसके ख्यालो मैं डुबकी लगानी पड़ती है.!

 *********************

 तुमको छुपा रखा हे इन पलकों मे
पर इनको ये बताना नहीं आया
सोते हुए भीग जाती हे पलके मेरी
पलकों को अब तक दर्द छुपाना नहीं आया

 *********************

 जब वो मिले हमसे अरसे बाद तो उन्होने पूछा हाल-चाल कैसा है,
तो मैने कहा तुम्हारी चली चाल से
मेरा हाल बदल गया,

 *********************

 खुदा के दरबार मे तुम्हारी सलामती की फरियाद करते हैं,
आप का तो पता नही मगर हम तो आपको एक पल मे सौ सौ बार याद करते हैं.

 *********************

 दर्द से दोस्ती हो गई यारों
जिंदगी बे दर्द हो गई यारों
क्या हुआ जो जल गया आशियाना हमारा
दूर तक रोशनी तो हो गई यारो

 *********************

 अजीब रंग में गुजरी है जिंदगी अपनी.
दिलो पर राज़ किया और मोहब्बत को तरसे...

 *********************

 अफ़सोस तो है तेरे बदल जाने का मगर,
तेरी कुछ बातों ने मुझे जीना सिखा दिया.

 *********************

 न जख्म भरे, न शराब सहारा हुई न वो
वापस लौटी न मोहब्बत दोबारा हुई !

 *********************

बहुत अमीर होती है ये शराब की बोतलें
पैसा चाहे जो भी लग जाए सारे ग़म ख़रीद लेतीं है

 *********************

 जब मिलो किसी से तो जरा दूर का रिश्ता रखना,
बहुत तङपाते हैँ अक्सर सीने से लगाने वाले

 *********************

 Sunatha Dard ka Aisas to chane wale kO Hota hai...
Lakin jab Dard hi chane wale De to Aisas kon karega...

 *********************

 चले आज तुम ज़हां से ह्ई ज़िन्दगी पराई...!
तुम्हे मिल गया ठिकाना हमे मौत भी ना आई...!!
ओ दूर के मुसफिर हमको भी साथ लेले रे...
हमको भी साथ लेले हम रह गये एकले.....!!!

 *********************

 अब कभी हम ना मिलेंगे
एक बार जुदा होने के बाद
अब बता देना मुश्किलों को भी
नया घर तलाश कर लो
सारी मुश्किलें ख़त्म हो जाएँगी
तुझसे बिछड़ने के बाद

 *********************

 *तो क्या हुआ जो आप नहीं मिलते हमसे.,*
*मिला तो रब भी नहीं हमसे,*
*पर इबादत कहां रुकी हमसे..*

 *********************

 टूटे हुए दिलो की जरुरत बहुत हैं
वरना महफ़िल में रंग जमायेगा कौन
जब टूटेगा ही नहीं दिल किसी का
तो मयखाने में पीने आएगा कौन.

 *********************

 मेरे दिल की दुनिया पे तेरा ही राज था।
कभी तेरे सीर पर भी वफाओ का ताज था।
तूने मेरा दिल तोडा पर पता न चला तुझको।
क्योंकि टुटा दिल दीवाने का बे आवाज था।

 *********************

 रस्मे उल्फत को निभाए तो निभाए कैसे,
हरतरफ आग है ,दामन को बचाए कैसे।
बोझ होता जो गमों का तो उठा भी लेते,
जिंदगी बोझ बनी तो फिर उठाए कैसे।

 *********************

 आंखों के हर कतरे का बोझ उठाता था, उठाता हूँ और उठाता रहूँगा ।
मगर आंसुओं को ना कभी बेवफा कहूँगा ।
इस जन्म का जो कर्ज है अगले जन्म में जरूर बगैर कर्ज मुस्कराउंगा । 

 *********************

 बिखरे थे जो अल्फ़ाज इस कायनात में
समेंटा है उन्हें चंद पन्नों की किताब में
अब दुआ नहीं मांगता बस पूंछता हुं खुदा से
अभी कितनी सांसे और हैं हिसाब में..??

 *********************

 तुझे चाहा रब से भी ज्यादा फिर भी ना तुझे पा सके
रहे तेरे दिल में मगर तेरी धडकन तक ना जा सके
जुड़के भी तुटी रहि ईश्क कि डोर वे
किस्मत के मारे असी कि करीये किस्मत पे किसका जोर

 *********************

 बेवफाओं की दुनिया से लफ्जों को आज भी शिकायत है......
जान बूझ कर इस्तेमाल नहीं करते, फिर लगाते तोहमत है . ! !

 *********************

 सोचा था तुझपे प्यार लुटाकर तेरे दिल में घर बनायेंगे…..
हमे क्या पता था दिल देकर भी हम बेघर रह जाएँगे.….

 *********************

 वही शख्स आकेला छोड गया मुझे इस दुनिया कि भीड मे
जिसने दुनिया की भीड़ से चुन के मुझे अपना बनाया था

 *********************

 Bikhre Armaano Ke Moti Hum
Piro Na Sake Tere Yaad Mein
Saari Rat Hum So Na Sake,
Bheeg Na Jai Ansuon Mein
Tasveer Teri Bass Yehi Soch
Kar Hum Raat Bhar Ro Na Sake.

 *********************

 Khushiyo Se Naraz Hai Meri Zindagi,
Pyar Ki Mohtaz Hai Meri Zindagi,
Hans Leta Hoo Logo Ko Dikhane Ke Liye,
Warna Dard Ki Kitaab Hai Meri Zindagi.

 *********************

 Pyar ne ye kaisa tohfa de diya,
Mujhko gumo ne pathar bana diya.
Teri yaadon main hi kat gayi ye umar,
Kehta raha tujhe kab ka bhula diya…

 *********************

 Phir aaj hum hai shairana mijaj me,
shayad tu aaj phir hame yaad karta hai
phir chal raha kuch tere sine me,
ki bewajah aaj kal dil humara dharkta hai …

 *********************

 दुआ ये है मेरी की दर्द तुम्हारा कम हो जाये,
चाहे हर बार दर्द से मेरी आँखें नम हो जाये !!

 *********************

 "आंसूं पीते हैं प्यास बुझाने के लिये,
आग हमने ही लगायी थी खुद को जलाने के लिये,
इस जनम में तो मुमकिन नहीं,
और जनम लगेंगे आपको भुलाने के लिये.

 *********************

 मोहबत को जो निभाते हैं उनको मेरा सलाम है,
और जो बीच रास्ते में छोड़ जाते हैं उनको, हुमारा ये पेघाम हैं,
“वादा-ए-वफ़ा करो तो फिर खुद को फ़ना करो,
वरना खुदा के लिए किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो”

 *********************

 गर हो तेरी मोहब्बत में आशियाना...
तो आ थोड़ीसी पनाह लेलु...
अगर जिंदगी ने कहीं बेवफाई करदी..तो
तुम्ही मुझे बेवफा समझें गी...

 *********************

 सावरियां....❤
ना पूछ मेरे सब्र की इंतेहा कहाँ तक हैं,
तू सितम कर ले, तेरी हसरत जहाँ तक हैं,
वफ़ा की उम्मीद, जिन्हें होगी उन्हें होगी,
हमें तो देखना है, तू बेवफ़ा कहाँ तक हैं. 

 *********************

 Kadam Kadam per baharo ne saath choda
Jaroorat padi to yaaro ne saath choda
Sitare bole ham denge saath tumhara
Lekin afsos subha hui to Sitare ne bhi saath choda 

 *********************

 दर्द है दिल में पर उसको एहसास नहीं होता
रोता है दिल जब वह पास नहीं होता
बर्बाद हो गए हम उनकी मोहब्बत मैं
और वह कहते है इस तरह प्यार नहीं होता

 *********************

 आज तेरी याद हम सीने से लगा कर रोये
तन्हाई मैं तुझे हम पास बुला कर रोये,
कई बार पुकारा इस दिल ने तुम्हें
और हर बार तुम्हें ना पाकर हम रोये !

 *********************

 Jo Na Hoti Mohabbat to Ye Aansu Na Hote,
Dil Bhi Na Khota Aaj Tanha Na Hote,
Deewano Si Apni Ye Haalat Na Hoti,
Agar Jaha Mein Apna Koi Aur Bhi Hota. 

 *********************

 Sab Kuch Hai Mere Pass,
Par Dard Ye Dil Ki Dawa Nahi,
Dur Hai Wo Mujhse,
Fir Bhi Main Usase Khafa Nahi,
Sau Gam Sahe Hain,
Par Ab Bhi Pyar Karta Hu Usko,
Kyunki Main Thoda Jiddi Hu,
Magar Bewafa Nahi..!!

 *********************

 कदम यूँ ही ‪#‎डगमगा‬ गए रास्ते में ,
वैसे ‪#‎संभालना‬ हम भी जानते थे ;
ठोकर भी लगी तो उसी ‪#‎पत्थर‬ से,
जिसे हम ‪#‎अपना‬ मानते थे !

 *********************

 मेरे सवालो के तुम मुझे जवाब तो दो,
मै गुजरा वक्त हूँ सुनो मुझे हिसाब तो दो.!!
हम रुके नहीं सफ़र में सुना सबसे कहते हो,
छोड़ दे सारी दुनिया साहिल आवाज तो दो.!!

 *********************

 न पूछो हालत मेरी रूसवाई के बाद,
मंजिल खो गयी है मेरी, जुदाई के बाद,
नजर को घेरती है हरपल घटा यादों की,
गुमनाम हो गया हूँ गम-ए-तन्हाई के बाद!

 *********************

 Mujhko Aisa Dard Mila Jiske Koi Dawa Nhi,
Phir Bhi Khus Hun Mujhe Us Se Koi Gila Nhi,
Aur Kitne Aansu Bahauo Uske Liye,
Jisko Khuda Ne Mere Naseeb Mein Likha He Nhi..! 

 *********************

 Kitna Chahne Laga Tha Main Usko,
Dil Bhi Uske Adaaoo Ka diwana Hone Laga Tha,
Lekin Pata Nahi Kismat Ka Kya Irdaa Tha,
Na Uske Hue Na Kise Aur Ke Hone Ke Kabil Rha!

 *********************

 तेरी आरज़ू मेरा ख्वाब है,
जिसका रास्ता बहुत खराब है,
मेरे ज़ख्म का अंदाज़ा ना लगा,
दिल का हर पन्ना दर्द की किताब है।

 *********************

 ना दिन का पता ना रात का
एक जवाब दे रब मेरी बात का
कितने दिन बीट गये उस से बिछड़े हुवे
ये बता दे कौन सा दिन रखा हैं हमारी मुलाकात का 

 *********************

 हर सितम सह कर कितने गम छिपाये हमने तेरी खातिर
हर दिन आँसु बहाये हमने तू दर्द दे गई जहा एकेले रोये हमने
बस तेरी दिए जख्मको छिपाए हमने

 *********************

 Hum na pa sake tujhe muddato se chahne ke baad.....aur...
Kisi ne apna bana liya tujhe chnd rasmein nibhane k baad.

 *********************

 Jis ke liye sab kuch luta diya humne
wo kehte hai unko bhula diya humne
gaye the hum unke aansu pochne
ilzam de diya ki unko rula diya humne

 *********************

 Tanhai Toh Hai Saathi Apni Zindagi Ke Har Ek Pal Ki,
Chalo Yeh Shikwa Bhi Durr Huwa Ki Kisi Ne Saath Na Diya.
Dil k bazzzar me daulat nhi dekhi jati...
pyar ho jaye to surat nhi dekhi jati...
ek hi insan pe luta do sb kuch dosto...
pasand aa jaye cheez ki keemat nhi dekhi jati.. 

 *********************

 Mje Lagta Tha Wo Jaan hai meri ....
Phir Us ne Ehsas Dilaya K wo Sb kuch hai meri ....
Jb mje uski bohat zrorat thi
Tab wo mje chor gyi
Par ajj jab wo sath nahi ...
To sochta hu k Ab kuch bhi nhi mera ....




Post a Comment

0 Comments