yaad shayari hindi in gujarati



"खूबियाँ इतनी तो नही हममे, कि तुम्हे कभी याद
आएँगे,,, पर इतना तो ऐतबार है हमे खुद पर,
आप हमे कभी भूल नही पाएँगे.."..

***********************************

तुझे भूल जाऊ ये मुमकीन नहीं है,,
कहीं भी रहूँ मेरा दिल तो यहीं है....!
घटे चांद लेकिन मुझे गम ना होगा,,,
तेरा प्यार दिल से कभी कम ना होगा...!!
तुझे प्यार करते हैं करते रहेंगे,,के
दिल बनके दिल में धड़कते रहेंगे...!!!

 *********************************** 

तुम्हारी यादों में मेरा अक्स झिलमिलाता होगा;
तुम्हारी बातों में मेरा ज़िक्र भी आता होग ।
लाख मशरूफ रहो तुम कहीं भी लेकिन;
अक्सर मेरा ख्याल तुम्हें भी सताता होगा।।  

*********************************** 


तसल्ली दिल को हो जाये . . . . . . . अगर इतना बता दो तुम.......!!
तुम्हें हिचकी भी आती है . . . . . . . हम जब भी याद करते हैं.......!!

 *********************************** 

काश कि तू देख सकता रात के इस पहरे में मुझको;
कितनी बे-दर्दी से तेरी याद मेरी नींद चुरा लेती है !!!

*********************************** 

तुम लाख छुपाओ सीने में एहसास हमारी चाहत का
दिल जब भी तुम्हारा धड़का है आवाज़ यहाँ तक आई है.

 ***********************************
Yaad ki nagari me aaj fir koi kafir aaya ''
fulo se saji sej pe fir koi rajkumar aaya''
barso bad aaj fir tare mare milan ka tyohar aaya ''
lo aaj fir apani yaado ka sawan aaya ''  

***********************************
तन्हाई मेरे दिल में गहराती चली गयी
तक़दीर भी अपना खेल दिखाती चली गयी
महकती फ़िज़ा में हिजर की शमा जलाती चली गयी
बस याद उनकी आयी और रुलाती चली गयी

*********************************** 
हकीक़त कहो तो उनको ख्वाब लगता है ..
शिकायत करो तो उनको मजाक लगता है…
कितने सिद्दत से उन्हें याद करते है हम ………….
और एक वो है ….जिन्हें ये सब इत्तेफाक लगता है…

 ***********************************
न पूछ कैसे पलो से गुज़र रहा हूँ मै।
इसे जीना न समझ मर रहा हूँ मै॥
तेरी जुदाई सताती है लोटकर आजा।
बहुत कमीँ तेरी महसूस कर रहा हूँ मै॥

*********************************** 
उसकी बेपनाह यादों ने बख्शा है मुझमे हुनर शायरी का
वो शख्स जाते जाते भी मुझे हुनरमंद बना गया ...!!!
 ***********************************

 दिल में हो आप तो कोई और खास कैसे होगा,
यादों में आपके सिवा कोई पास कैसे होगा,
हिचकियां कहती हैं आप याद करते हो,
पर बोलोगे नहीं तो हमें एहसास कैसे होगा.. 

*********************************** 

कोई पल ऐसा नहीं,कि जिसमें तू याद ना आया हो,
सच कहूँ तो.मेरी हर साँस गुलाम है तेरी.
ना हाथ थाम सके,ना पकड़ सके दामन,
बहुत करीब से गुजर कर,बिछड़ गये ..
सब रंग रीते हैं तेरे बगैर,फिर भी जीते हैं तेरे बगैर ।.*

*********************************** 

आह भरते हैं मगर रो नहीं सकते,
जान हाजिर है मगर दे नहीं सकते.!!
आरजू दिल में है, मगर मिल नहीं सकते,
याद करते हैं मगर कह नहीं सकते.!!  

***********************************
.कुछ ख़याल ऐसे ही मेरे दिल मे आते जाते हैं
कुछ उनकी यादों मे डूबके हम मुस्कुराते हैं l
कभी खो जाते हैं हम उनकी तस्वीर मे और
कभी उन्ही के नाम से खुशी के गीत गाते हैं l
*********************************** 

इस तरह दिल में समाओगे मालूम न था,
दिल को इतना तड़पाओगे मालूम न था.!!
सोचा था कि दूर हो तो याद तो आओगे,
मगर इस कदर याद आओगे मालूम न था.
*********************************** 

 *"धीरे धीरे उम्र कट जाती हैं!*
*"जीवन यादों की पुस्तक बन जाती है!*
*"कभी किसी की याद बहुत तड़पाती है!*
*"और कभी यादों के सहारे जिंदगी कट जाती है!*
*"किनारो पे सागर के खजाने नहीं आते!*
*"फिर जीवन में दोस्त और रिश्तेदार पुराने नहीं आते!*
*"जी लो इन पलों को हंस के दोस्त!*
*"फिर लौट के दोस्ती और रिश्तों के जमाने नहीं आते!!!*

*********************************** 

कभी कभी सपने चोरी हो जाते है,
हालात से लोग दुर हो जाते है,
पर कुछ यादे इतनी अच्छी होती हे कि,
उन्हें याद करने को हम मजबूर हो जाते है....  
***********************************

Hum Kuch Is Tarha Se Aapk Yaad Aayenge,
K Kbhi Kbhi Aap Khud Ko Bhul Jayenge,
Bas Itna Sa Asar Hoga Humre Yaadon Ka,
K Kbhi Kbhi Aap Bina Wajha Muskurenge!

*********************************** 

टपक पड़ते हैँ आँसू जब
किसी की याद आती है..
ये वो बरसात है जिसका
कोई मौसम नहीँ होता...

*********************************** 

हमें अब खो कर कहते हो मुझे तुम याद आते हो,
किसी का हो के कहते हो मुझे तुम याद आते हो
न पूछ तू उस की बदनसीबी का आलम,
के सब कुछ खो के कहते हो मुझे तुम याद आते हो.

*********************************** 

ae HAWA tu chalna band kr de...
jb jb tu chalti hai unki YAAD aati hai...w
o to khush hai apni duniya me...J
AAN to pal pal hmari jati hai...

*********************************** 
 
दोस्ती के लिए दीवाने चले आते है
शमा के पीछे परवाने चले आते है
तुम्हे याद ना आई पर आना मेरी मौत पर
उस दिन तो बेगाने भी चले आते है

*********************************** 
वो नहीं आते पर निशानी भेज देते है
ख्वाबों में दास्ताँ पुरानी भेज देते है
कितने मीठे है उनकी यादों के मंजर
कभी कभी आँखो मे पानी भेज देते है

 ***********************************

टपक पड़ते हैँ आँसू जब
किसी की याद आती है..
ये वो बरसात है जिसका
कोई मौसम नहीँ होता...
 
*********************************** 
लहर आती है किनारे से पलट जाती है,
याद आती है दिल में सिमट जाती है
दोनों में फर्क सिर्फ ईतना है,
लहर बेवकत आती है और याद हर वक़्त आती है…
*********************************** 

वक़्त के दायरे से हम गुज़र न जाये,
अरमानो के सिलसिले कही बिखर न जाये,
इसलिए आपको बेवकत याद करते है,
कही आपके दिल से हम निकल न जाये…

 ***********************************
दुनिया में यादे बड़ी खास होती है,
जो दूर हो उनके दिल के पास होती है,
याद करने के लिए वजह जरुरी नहीं,
यादे तो रिश्तो के बीच का एहसास होती है…
*********************************** 

याद करेंगे तो दिन से रात हो जायेगी
आईने में देखिये खुद को हमसे बात हो जायेगी,
शिकवा न करीये हमसे मिलने का,
आँखे बंद करीये मुलाकात हो जायेगी.
*********************************** 

ये आरजू नहीं की किसी को भुलाए हम
ना तमन्ना की किसी को रुलाए हम
पर दुआ है रब से इतनी की
जिसको जितना याद करते है उसको उतना याद आये हम..

*********************************** 

रहते हो दूर कुछ पल के लिए,
दूर रेह्कर भी करीब हो हर पल के लिए,
कैसे याद ना आए आपको १ पल के लिए,
जब दिल में हो आप हर पल के लिए…
*********************************** 

रात के पहलु में तेरी याद क्यू है,
तू नहीं तो तेरा एह्सास क्यू है,
मैने तो बस तेरी ख़ुशी चाही थी,
ऐ जान पर तू आज तक,
इतने ”दूर” क्यू हे !

*********************************** 
बिखरे रिश्तो को कोई रूप दे दो,
खिलते फुलों को थोडी धूप दे दो,
आपकी याद आयी है तो SMS किया हमने,
आप भी हमारी याद आने का कोई सबूत दे दो…
*********************************** 

 बिन सावन बरसात नहीं होती,
सूरज डूबे बिना रात नहीं होती,
क्या करे अब कुछ ऐसे हालत है,
आपकी याद आये बिना दिन
कि शुरुवात नहीं होती…
*********************************** 

रात को जब चाँद सितारे चमकते हैं,
हम हरदम फिर तेरी याद में तड़पते हैं,
आप तो चले गए हो छोड़कर हम को,
मगर हम मिलने को तरसते है।
*********************************** 

फुरसत मिले तो याद करना,
हमारी भी कमी का एहसास करना,
हमे तो आदत है आपको याद करने कि,
अगर डिस्टर्ब किया हो तो माफ़ करना.
*********************************** 

क्या करे जब किसी की याद आये,
हर धड़कन पे किसी का नाम आये,
कैसे कटेंगे ये लम्हे इंतज़ार में उसके,
इश्क़ में हर घडी मेरी जान जाये!
 ***********************************

चाँद ने चाँद को याद किया,
प्यार ने प्यार को याद किया,
लेकिन हमारे पास ना चाँद है ना प्यार,
इसलिए हमने चाँद जैसे दोस्त को याद किया…
*********************************** 

एक तनहा रात में आपकी याद आयी,
याद भुलाने के लिए हमने १ मोमबत्ती जलाई,
उफ़ वो मोमबत्ती क्या क़यामत लायी,
उठते धुए ने भी आपकी तस्वीर बनायीं...

*********************************** 
 
काश उस जाते हुए वक़्त को रोक सकते,
आपके साथ गुजरा हर लम्हा जोड़ सकते,
न जाने कितनी यादे जो आपने दी हमे,
काश जिंदगी को हम पीछे मोड़ सकते.
***********************************

काश वो पल संग बिताए न होते
जिनको याद कर के ये आँसू आये ना होते
खुदा को अगर इस तरह दूर ले जाना ही था
तो इतनी गहराई से दिल मिलाए ना होते

***********************************
कब उनकी पलकों से इज़हार होगा
दिल के किसी कोने में हमारे लिए प्यार होगा
गुज़र रही है रात उनकी याद में
कभी तो उनको भी हमारा इंतज़ार होगा!

***********************************
याद मे हमारी आप भी खोए होंगे,
खुली आँखो मे कभी आप भी सोए होंगे,
माना की हसना है अदा गम छुपाने की,
पर हस्ते-हस्ते कभी आप भी रोए होंगे.

***********************************
यादों में तेरी आहे भरता हैं कोई,
हर साँस के साथ तुझे याद करता हैं कोई,
मौत सच हैं एक दिन आनी हैं लेकिन,
तेरी याद में हर रोज़ मरता हैं कोई..
***********************************

जहां भी देखा गम का साया तू ही तू मुझको याद आया
ख्वाबों की कलियां जब टूटी ये गुलशन लगने लगा पराया
दरिया जब-जब दिल से निकला एक समंदर आंखों में समाया
मेरे दामन में कुछ तो देते यूं तो कुछ नहीं मांगा खुदाया

***********************************

तेरी बेरुखी को भी रुतबा दिया हमने ,
तेरे प्यार का हर क़र्ज़ अदा किया हमने ,
मत सोच के हम भूल गए है तुझे ,
आज भी खुदा से पहले याद किया है तुझे.

***********************************
गम ने हसने न दिया, ज़माने ने रोने न दिया!
इस उलझन ने चैन से जीने न दिया!
थक के जब सितारों से पनाह ली!
नींद आई तो तेरी याद ने सोने न दिया!
***********************************

यादों की किम्मत वो क्या जाने;
जो ख़ुद यादों को मिटा दिए करते हैं,
यादों का मतलब तो उनसे पूछो जो,
यादों के सहारे जिया करते हैं!

***********************************

अगर यूँही ये दिल सताता रहेगा;
तो इक दिन मेरा जी ही जाता रहेगा;
मैं जाता हूँ दिल को तेरे पास छोड़े;
ये मेरी याद तुझको दिलाता रहेगा!

***********************************

याद तेरी आती है क्यो.यू तड़पाती है क्यो?
दूर हे जब जाना था.. फिर रूलाती है क्यो?
दर्द हुआ है ऐसे, जले पे नमक जैसे.
खुद को भी जानता नही, तुझे भूलाऊ कैसे?.

***********************************
ढूढो तो पत्थरो में भी भगवान मिल जाते है
आँखे बंदकरके दिल से याद करो जो अपने है वो नजर आते है
पर ये क्यू कहते है लोग की आप मुझे भूल गये
मगर जब भी हमने आपको याद किया आप हमारे सामने नजर आते है 

***********************************

आईने में भी खुद को झांक कर देखा;
खुद को भी हमने तनहा करके देखा;
पता चल गया हमें कितनी मोहब्बत है आपसे;
जब तेरी याद को दिल से जुदा करके देखा।

***********************************

हंसी ने लबों पर थ्रिकराना छोड दिया
ख्बाबों ने सपनों में आना छोड दिया
नहीं आती अब तो हिचकीया भी
शायद आपने भी याद करना छोड’ दिया
***********************************

दिल तेरी याद में आहें भरता है!
मिलने को पल पल तड़पता है!
मेरा यह सपना टूट न जाये कहीं!
बस इसी बात से दिल डरता है!
***********************************

रात हुई जब शाम के बाद!
तेरी याद आई हर बात के बाद!
हमने खामोश रहकर भी देखा!
तेरी आवाज़ आई हर सांस के बाद!

*********************************** 
 
 दिल जब टूटता है तो आवाज नहीं आती!
हर किसी को मुहब्बत रास नहीं आती!
ये तो अपने-अपने नसीब की बात है!
कोई भूलता नहीं और किसी को याद भी नहीं आती!










 

Post a Comment

0 Comments